Lakheempur Kheeri : कच्ची अवैध शराब बनाने और बेचने का कुटीर उद्योग चल रहा सहते पुरवा में पियक्कडो के बबाल से कव मिलेगी मुक्ति

बसंत कुमार मांझी /आदेश शर्मा जिला व्यूरो जनपद लखीमपुर-खीरी

Lakheempur Kheeri  : कोतवाली निघासन  क्षेत्र के लुधौरी का मजरा सहते पुरवा आज कल अवैध कच्ची शराब बनाने बालो वेचने वालों और पियक्कड़ों की जन्नत बना हुआ है
न पुलिस का खौफ न पकड़े जाने का डर है इन पियक्कड़ों को
आये दिन यहां पियक्कड़ शराबी सहज उपलव्ध अवैध कच्ची शराब के नशे में झूमते आम लोगो से वेवजह गाली गलौज करते इधर उधर‌ नजर आते रहते हैं वहीं इन पियक्कड़ों के कारण शरीफ लोगों का जीना हराम हो गया है
ग्रामीणों की मानें तो सहते पुरवा में धड़ल्ले से विकने वाली अवैध देशी कच्ची शराब के कारण स्थानीय लोग परेशान हैं गांव के नव युवकों को इस अवैध शराब ने इस तरह जकड़ रखा है कि संपन्न घरों के लड़कों को तो छोड़ दीजिए दिहाड़ी पर गन्ना छोलने की मजदूरी करने वाले मजदूर भी दिन भर हाड़तोड़ मेहनत करने के बाद अपनी दिहाड़ी लेकर पहले सीधे अवैध शराब बेचने वालों के घर पर जाते हैं फिर वहां शराव में अपनी कमाई वहां कर मदमस्त होकर अपने घर जाते हैं जहां इनके बीबी बच्चे इंतजार कर रहे होते हैं घर जाकर छोटी छोटी बातों पर लड़ना मारपीट करना इन शराबियों की दैनन्दिनी दिन चर्या वन चुकी है
सूत्रों की मानें तो इस अवैध शराब के निर्माताओं और विक्रेताओं की पकड़ इतनी मजबूत है कि जिम्मेदार इन पर कार्यवाही करने के स्थान पर स्वयं बौने नजर आते हैं
सहतेपुरवा में अवैध कच्चीं शराब पीने वालों के कारण कभी भी कोई अप्रतिम घटना भी घट सकती है परेशान गांव वाले अक्सर यहां विकने वाली अवैध शराब के कारण होने बाली गाली गलौज मारपीट की मूवी वना कर या फोटो खींच कर तमाम सोशल मीडिया प्लेटफार्मो पर यह सोच कर डालते रहते हैं कि कभी तो कोई जिम्मेदार अधिकारी इनकी समस्या को देखेगा
कोई तो होगा इमानदार जो दब़ग शराब माफिया के चुंगल में जकड़ कर दम तोडने को मजबूर युवाओं को बचाने और अवैध शराब के चलते टूटते बर्बाद होते परिवारों को बचाने की पहल करते हुये इस अवैध शराब के जहरीले कारोबार को बंद करा कर इलाके में रोज होने बाली गाली गलौज मारपीट से ग्रामीणों को मुक्ति दिलायेगा

Average Rating
0 out of 5 stars. 0 votes.

Leave a Reply

%d bloggers like this: